upsc animal husbandry and veterinary science optional syllabus latest

परिचय(Introduction) :

क्या आप UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं औरanimal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) को अपने विकल्प विषय के रूप में विचार रहे हैं? अगर हाँ, तो आप एक रोमांचक और सीखने भरे सफर के लिए तैयार हैं! इस व्यापक मार्गदर्शन में, हम animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) को UPSC के अपने विकल्प विषय के रूप में चुनने की परिकल्पना करने वालों को इसके विस्तार से पता लगाएंगे और देखेंगे कि इसे कैसे प्रभावी तरीके से पास किया जा सकता है।

animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) को अपने वैकल्पिक विषय के रूप में क्यों चुनें?

इससे पहले कि हम पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान वैकल्पिक के साथ यूपीएससी की तैयारी की बारीकियों पर गौर करें, आइए मूल प्रश्न पर ध्यान दें: पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान को अपने वैकल्पिक विषय के रूप में क्यों चुनें?

  1. व्यक्तिगत रुचि: यदि आपको जानवरों, उनके स्वास्थ्य, प्रजनन और प्रबंधन में रुचि है, तो यह विषय आपकी रुचि और प्रबलताओं से मेल खाता है।

  2. अंकों की संभावना: पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान विज्ञान के विज्ञानिक स्वभाव और तथ्यात्मक प्रश्नों की वजह से इसमें अधिकांश अंक प्राप्त किए जा सकते हैं, जो अभ्यर्थियों को उच्च अंक प्राप्त करने में मदद करता है।

  3. सिलेबस में समानता: यह विषय पर्यावरण, कृषि और सार्वजनिक स्वास्थ्य जैसे विभिन्न जीएस (सामान्य अध्ययन) पेपरों के साथ समान धरोहर रखता है, जो संयुक्त तैयारी के लिए अधिक लाभदायक है।

अब जब हम समझ गए हैं कि पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान एक व्यवहार्य विकल्प क्यों है, तो आइए देखें कि इस विषय में उत्कृष्टता कैसे हासिल की जाए।

upsc animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) syllabus को समझना

पेपर I:
पशु पोषण (Animal Nutrition)
पशु शारीरिकी (Animal Physiology)
पशु उत्पादन और प्रबंधन (Livestock Production and Management)
आनुवंशिकी और पशु नस्लनी (Genetics and Animal Breeding)
स्वास्थ्य और स्वच्छता (Health and Hygiene)
जैव रसायन (Biochemistry)
पेपर II:
पशु रोग (Animal Diseases)
पशु सार्वजनिक स्वास्थ्य (Veterinary Public Health)
फार्माकोलॉजी और विषाक्तता (Pharmacology and Toxicology)
पशु प्रजनन और स्त्रीरोग विज्ञान (Animal Reproduction and Gynecology)
एक्सटेंशन (Extension)

  1.  

तैयारी रणनीतियाँ(Preparation Strategies) :

व्यापक अध्ययन सामग्री: सिलेबस में दिए गए प्रत्येक विषय को कवर करने वाली मानक पाठ्यपुस्तकों और संदर्भ सामग्री को इकट्ठा करें। UPSC-विशेष अध्ययन सामग्री ध्यान देने योग्य है।

सिद्धांतों की समझ: मुख्यत: रटने की बजाय मजबूत सिद्धांतों का निर्माण करें। अनुप्रयोग पर आधारित प्रश्नों का उत्तर देने के लिए सिद्धांतों और सिद्धांतों को समझना महत्त्वपूर्ण है।

नियमित पुनरावलोकन: आपने सीखा हुआ स्थायी बनाए रखने के लिए नियमित पुनरावलोकन की योजना बनाएं। यह स्मरण में मदद करता है और परीक्षा के दौरान याद करने में मदद करता है।

पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों का हल करें: पिछले वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करने का अभ्यास करें ताकि प्रश्न पैटर्न, समय प्रबंधन और तैयारी की स्तर को समझ सकें।

मॉक टेस्ट और प्रैक्टिस एग्जाम: मॉक टेस्ट सीरीज में शामिल हों या सिम्युलेटेड परीक्षा प्रदान करने वाले कोचिंग संस्थानों में शामिल हों। ये वास्तविक परीक्षा वातावरण को मिमिक करते हैं और स्व-मूल्यांकन में मदद करते हैं।

अद्यतन रहें: पशुपालन, पशु चिकित्सा विज्ञान, सरकारी योजनाओं और पशु कल्याण से संबंधित नवीनतम विकासों के साथ कदम मिलाते रहें।

UPSC animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) books in hindi medium

UPSC animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) के लिए हिंदी माध्यम में पुस्तकों की सूची इस प्रकार है:

पेपर 1:
“पशुपालन और उत्पादन व्यवस्था” (Livestock Production and Management) – एल. बाक्सी और जेएस नगी
“पशु चिकित्सा की अवधारणा” (Concepts of Veterinary Medicine) – डॉ. एस. के. मुखोपाध्याय
“पशु अनुशासन” (Animal Nutrition) – बी. वेंकटरमनी
“पशु आनुवंशिकी और प्रजनन” (Genetics and Animal Breeding) – डॉ. पी. गोविंदराजुलू
“पशु रसायन और जैव रसायन” (Animal and Biochemistry) – आर. सी. दुबले

पेपर 2:
“पशु रोग और उनका इलाज” (Animal Diseases and Their Treatment) – डॉ. विश्वनाथ
“पशु चिकित्सा में फार्माकोलॉजी” (Pharmacology in Veterinary Medicine) – डॉ. एन. के. पट्टनायक
“पशु स्वास्थ्य और सार्वजनिक स्वास्थ्य” (Animal Health and Public Health) – डॉ. ए. के. दत्ता
“पशु संक्रामक रोग” (Infectious Diseases of Animals) – डॉ. डी. बी. सिंह
“पशुपालन का विस्तार” (Animal Husbandry Extension) – डॉ. आर. बी. अनंतकृष्णन

यह पुस्तकें हिंदी माध्यम में उपलब्ध होती हैं और UPSC के परीक्षा पैटर्न और सिलेबस को ध्यान में रखते हुए बनाई गई हैं। यह सुनिश्चित करें कि आप नवीनतम संस्करण की प्राप्ति करें और पूरा परीक्षा सिलेबस कवर करने वाली पुस्तकें हों।

UPSC animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) books in English medium

Certainly! Here’s a list of recommended books for UPSC Animal Husbandry and Veterinary Science Optional in English for both Paper 1 and Paper 2:

Paper 1:
“Animal Husbandry” by G.C. Banerjee
“Animal Nutrition” by D.V. Reddy and G.P. Gupta
“Livestock Production and Management” by A. K. Jain
“Introduction to Veterinary Anatomy and Physiology” by Victoria Aspinall and Melanie Cappello
“Textbook of Animal Breeding” by Gowan Smith and Jayarame Gowda

Paper 2:
“Veterinary Public Health and Epidemiology” by R. Singaravelu and G. Gnanaprakasam
“Animal Diseases” by B.V. Bhanu Prasad and D. Venkataramana
“Veterinary Pharmacology and Toxicology” by M.L. Madan and V. Gupta
“Veterinary Gynaecology and Obstetrics” by G.C. Banerjee
“Animal Reproduction” by A. K. Jain and B. Singh

These books cover various aspects of Animal Husbandry and Veterinary Science as per the UPSC syllabus. It’s advisable to refer to the latest editions and complement these books with UPSC-specific study materials, mock tests, and previous year question papers for comprehensive preparation.

निष्कर्ष(Conclusion):

UPSC के लिए animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) विकल्प के रूप में चुनना यदि आपकी इस श्रेणी में वास्तविक रुचि है तो एक बड़ा निर्णय हो सकता है। निष्ठा, योजनाबद्धता और विषय मामले की समझ के साथ, आप इस विकल्प विषय में सफलतापूर्वक पहुंच सकते हैं।

ध्यान दें, UPSC animal husbandry and veterinary science optional (पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान) विकल्प, जैसे किसी भी विषय में, नियमित प्रयास, सिद्धांतों में स्पष्टता, और समय प्रबंधन में परिपूर्णता की मांग करता है। इस सफर को अपनाएं, ऊपर दिए गए रणनीतियों का पालन करें, और UPSC परीक्षा में उत्कृष्टता की ओर अपना कदम बढ़ाएं। शुभकामनाएं!

upsc animal husbandry and veterinary science optional syllabus in Hindi PDF DOWNLOAD

upsc animal husbandry and veterinary science optional syllabus in ENGLISH PDF DOWNLOAD

OFFICIAL WEBSITE

Spread the love

Leave a Reply